Amazon-Buy the products

Thursday, November 4, 2010

शुभ दीपावली

“प्रकाश के इस त्यौहार में,

जगमग रहे जीवन.

तिमिर का नाश हो,

फैले उजियारा सर्वत्र,

आशाओं के दीप जले,

उम्मीदों के गुलशन खिले,

जीवन का हर पल महके,

हर पल में खुशियों के दीप जले. "

5 comments:

  1. अच्छी कविता
    आपको सपरिवार दिपोत्सव की ढेरों शुभकामनाएँ
    मेरी पहली लघु कहानी पढ़ने के लिये आप सरोवर पर सादर आमंत्रित हैं

    ReplyDelete
  2. सुन्दर अभिव्यक्ति...
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं...

    ReplyDelete
  3. सुन्दर कविता
    ...
    दीवाली के शुभ अवसर पर हार्दिक ढेरो शुभकामनाये और बधाई .

    ReplyDelete
  4. दीपावली के इस पावन पर्व पर आप सभी को सहृदय ढेर सारी शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  5. आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामाएं ...

    ReplyDelete