Amazon-Buy the products

Monday, March 7, 2011

नारी - महिमा अपरम्पार .........



बेटी बनकर तुने महकाया अपने माँ बाप का आँगन ,

बहन बन तुने भाई को दिया स्नेह का संसार.

पत्नी बन तुने पति के सपनो को दिया एक नया आकार,

माँ बन तुने अपने बच्चो को दिए कितने संस्कार.

हर रूप में तू निराली हैं, तेरा बिना ये संसार ख़ाली हैं.

तू जगत जननी तेरी महिमा अपरम्पार हैं.

Happy Women day- Salute to every woman.

No comments:

Post a Comment