Amazon-Buy the products

Friday, September 30, 2016

नयी इबारत


चल फिर से ज़िन्दगी की नयी इबारत लिखते हैं !
देर कभी नहीं होती , आज से ही शुरू करते हैं !!

बीते लम्हो को याद बनाकर आगे बढ़ते हैं !
आगे कैसे सुनहरा हो ? प्लान बनाते हैं !!

क्या खोया , क्या पाया - इस बात की फिक्र छोड़ते हैं !
आज फिर से एक कोरे कागज से ज़िन्दगी शुरू करते हैं !! 

चल बेहतर से बेहतरीन बनते हैं !
ज़िन्दगी को अपनी कुछ सरल करते हैं !!

फिर से बच्चा बनकर चीजो को नए सिरे से समझते हैं !
हजारो सवालो के उत्तर फिर ढूंढते हैं !! 

न किसी से कोई शिकायत , न कोई रंजो गम दिल में रखते हैं !
चल फिर से नयी ज़िन्दगी शुरू करते हैं !!